1 of 1 parts

दावत-ए-खास बिरयानी रेसिपी-Biryani

By: Team Aapkisaheli | Posted: 25 Oct, 2015

दावत-ए-खास बिरयानी रेसिपी-Biryani
शादी की दावत में खास रेसिपीज शामिल करें, जो मेहमानों का दिल जीत लें।
सामग्री
एक कटोरी चावल
आधा कटोरी कच्चा नारियल छिलकर किसा हुआ
150 ग्राम पनीर
स्वादानुसार नमक
खाने वाला लाल
पीला व हरा रंग
1 चम्मच देसी घी
1 ब़डा प्याज
1 शिमला मिर्च
1 गाजर
थोडा-सा हरा धनिया व पुदीना।
बनाने की विधि सबसे पहले चावल धोकर उबाल लें। अब गरम चावल में देसी घी और नमक डालकर अच्छी तरह मिला लें। चावल को बराबर तीन हिस्सों में बांट लें। एक हिस्से में कुछ बूंदे लाल रंग, दूसरे में पीली और तीसरे में हरा रंग डालें और मिलाकर अलग रख लें। अब शिमला मिर्च, गाजर और प्याज को करीब 1-डेढ इंच पतला और लंबा काट लें। पनीर के भी छोटे-छोटे टुकडे काट लें। कडाही में तेल गर्म कर कटा पनीर, गाजर, शिमला मिर्च और प्याज डालकर सुनहरा होने तक तलें। अब एक बडी प्लेट में तीनों रंग के चावल सजाएं। पनीर, कच्चा नारियल और सभी सब्जियों को एक साथ मिलाकर चावल के ऊपर किनारे पर सजाएं। गरमा-गरम लजीज रंगबिरंगी कोकोनट बिरयानी मेहमानों को पेश करें।
Dawat E Khas Biryani Recipe, how to make vegetable Biryani recipe, chicken Biryani Recipe, Biryani Recipe, festive season special Biryani Recipe

Mixed Bag

News

मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार 
करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है
 जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा,
मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा, "एक चीज जो मैंने अपने बारे में सीखी है, वह यह कि मुझे अलग, भीड़ से दूर रहना पसंद है। मैंने खुद से प्यार किया है। मैंने बहुत से लोगों को शिकायत करते देखा कि वे घर पर बोर हो चुके हैं या वे बाहर नहीं जा सकते। मैं भी एक एक्सट्रोवर्ट हूं, मैं एक बहुत ही सामाजिक व्यक्ति हूं, लेकिन इस क्वारंटाइन ने मुझे यह एहसास दिलाया है कि मैं लोगों से मिलने की बजाय अलगाव पसंद करती हूं, क्योंकि मैं वास्तव में लोगों के संपर्क में नहीं हूं।"उन्होंने आगे कहा, "मैं किताबे पढ़ने पर जोर दे रही हूं, ज्यादा टेलीविजन नहीं देखा, लेकिन अब शो देखना शुरू कर दिया है। मैंने अपनी मां के साथ बहुत समय बिताया है, और ईमानदारी से कहूं तो ऐसे दिन भी थे जब मैंने कुछ नहीं किया।"भूमी का कहना है कि आत्म-प्रेम खुशी की चाबी है और उसने इस लॉकडाउन में खुद को प्राथमिकता दी है।उन्होंने आगे कहा, "मैंने जीवन में जो कुछ भी महत्वपूर्ण है, उसे प्राथमिकता दी है। मैंने खुद को फिर से शिक्षित किया है। लेकिन सबसे बड़ी सीख यह रही है कि मुझे अकेले रहना बहुत पसंद है।" (आईएएनएस)

Ifairer