1 of 1 parts

टूटे दिल को जोडें योगासन द्वारा

By: Team Aapkisaheli | Posted: 17 May, 2018

टूटे दिल को जोडें योगासन द्वारा
किसी ने सही कहा है कि चाहे मंदिर मस्जिद तोडो पर किसी का दिल मत तोडो। पर जिसे हम चाहते हैं यदि वही दिल तोड दे तोफिर क्या करें? अपने आप को निराशा में घिरने दें। अपने आप को संभाले और योगासन द्वारा अपनी जिंदगी को फिर से खुशगवार बनाएं। 
 
1. ब्रेकअप होने के बाद मन बार-बार पुरानी बातों को याद करके बैचेन हो जाता है। हर समय दिमाग में बीती घटनाएं और उनसे जुडी बातें चलती रहती है, जो मन को और भी ज्यादा विचलित कर देती है। अपने मन व दिमाग को शांत करने के लिए खुली हवा में जब भी आपको वक्त मिले, ध्यान मुद्रा करें। 

ध्यान मुद्रा: सुखासन या वज्रासन में बैठ जाएं। इसके बाद दोनों हथेलियों को जांघो पर एक दूसरे पर इस तरह रखें कि हथेलियां ऊपर की ओर हों। पीठ तनी और आंखे बंद हों। अब अपनी सांसो पर ध्यान केंद्रित करें। यदि ध्यान नहीं लगा पा रहे हों या मन भटक रहा हो तो एक गहरी सांस लें और सारे विचारों को मन से निकाल दें। पुन: सामान्य अवस्था में आ जाएं। रोजाना 5 से 10 मिनट ऎसा करने पर आप ध्यान केंद्रित करने में सफल हो जाएंगे। 

2. जिसे आप बेइंतहा प्यार करते हैं, यदि वही आपको धोखा दे जाए तो मन उदासी और निराशा से घिर जाता है। अपने मन में फिर से उत्साह और शरीर में ऊर्जा लाने के लिए भ्रामरी प्रणायाम करें। 
 
भ्रामरी प्राणायाम: एक कुर्सी पर बैठ जाएं या फर्श पर आसन बिछाकर पैरों को क्रॉस करके बैठें। अब तर्जनी अंगुली को अंगूठे के सिरे पर स्पर्श कराएं और दोनों हाथों को घुटनों पर रखें। अब आंखे बंद करके नाक से गहरी सांस लेते हुए मुंह से हम्म्म्म्म्म्म्.... की आवाज करते हुए सांस को बाहर छोडें। इस प्रक्रिया को 10-11 बार दोहराएं। गहरी सांस लेने से शरीर को ऑक्सीजन मिलती है जो कोशिकाओं का पुननिर्माण करती है। भ्रामरी प्राणायाम करने से आपका सारा तनाव धिरे-धिरे खत्म होता जाता है और एक नई ऊर्जा शरीर में प्रवाहित होती है। 

3. रिश्तों के टूटने पर दर्द तो होता ही है। साथ ही हीन भावना भी मन को घेर लेती है। जिससे आत्मविश्वास में कमी आ जाती है। अपने खोए हुए आत्मविश्वास को फिर से पाने के लिए नटराजन आसन करें।
 
नटराजन आसन: अपने दाएं पैर को उठाएं और पीछे की ओर ले जाएं। अब घुटनों को मोडें और पैर के अंगूठे को दाएं हाथ से पकडें। बाएं हाथ को आगे की ओर बढाएं और सिर के आगे की ओर ताने। बाहें कान को स्पर्श करें। इस स्थिति में 2-3 मिनट तक अपने शरीर का बैलेंस बनाएं रखें। फिर इस पक्रि या को बाएं पैर से भी दोहराएं। इस आसन द्वारा आपको शारीरीक और मानसिक रूप से आराम मिलेगा और आप फिर से अपने अंदर आत्मविश्वास महसूस करने लगेंगे। 

4. अक्सर लोग दिल टूटने के बाद अपनी पिछली बातों को याद करते रहते हैं और सोचते हैं कि ऎसी गलती फिर कभी नहीं करेंगे। लेकिन अतीत के बारे में सोचकर वे अपने वर्तमान को खो देते हैं। इसके लिए निद्रा आसन करें।

निद्रा आसन: पीठ के बल लेट जाएं और पैरों को ढीला छोड कर पूरे शरीर को आराम दें। अब अपने पैरों की एडियों को आपस में मिला लें लेकिन अंगूठों के बीच दूरी रखें। बाहें शरीर से सटी हुई हों और हथेलियां ऊपर की ओर रखें। अब अपनी आखे बंद कर लें और शरीर के हर भाग पर ध्यान केंद्रित करें। दाएं पैर के अंगूठे पर ध्यान केंद्रित करते हुए धीरे-धीरे शरीर के ऊपर के हिस्से पर और अंत में चेहरे व सिर पर ध्यान केंद्रित करें। अब यही पक्रिया बाएं पैर से दोहराएं। ऎसा करने से शरीर को आराम मिलता है और पूरे शरीर में रक्त प्रवाह होता है। जिससे शरीर को ऊर्जा मिलती है।
उपरोक्त योगासन करके आप अपने अंदर की निगेटिविटी को दूर कर सकते हैं और अपने अंदर एक नई ऊर्जा का संचार कर सकते हैं। इस स्थिति में आप एक निर्णय पर पहुंचेगे कि जो कुछ है वर्तमान है, अतीत कुछ नहीं। आप अपने आप को ज्यादा एनर्जेटिक महसूस करेंगे और अपने आप को वर्तमान से जुडा पाएंगे।

#तिल ने खोला महिला के स्वभाव का राज


Broken heart Linked to Yogasan, yog, broken heart, breakup, Yogasan

Mixed Bag

error:cannot create object