1 of 1 parts

संबंधों में चरम सुख प्रदान करते हैं वृश्चिक राशि वाले

By: Team Aapkisaheli | Posted: 23 Oct, 2017

संबंधों में चरम सुख प्रदान करते हैं वृश्चिक राशि वाले
यह सेक्सी और गोपनीय प्रेमी होते है। यह राशि चक्र में सेक्स घर द्वारा शक्ति होता है इसलिए यह ऎसे रहस्य और जादुई प्राणी है जिन्हे पता है कि उनके लिए क्या सबसे अच्छा है और उसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है। अधिकांश वृश्चिक चुनौतियों को प्यार करते है और जो लोग उनका परिक्षण नहीं करते है यह उनकी और जल्दी आर्कषित हो जाते है। सेक्सी होने के अलावा वृश्चिक बहुत केयरिंग और समर्पित प्रेमी भी होते है। लगभग सभी वृश्चिक प्राकृतिक रूप से उच्च लिलिडो के स्वामी होते है और यौन संबंधों में चरम सुख प्रदान करते है तथा अपनी भी पूर्ण संतुष्टि प्राप्त करते है।

अन्य राशियों के साथ अनुकूलता :


वृश्चिक-मेष : इस संयोजन के लिए कोई पूर्वानुमान लगाना बहुत मुश्किल कार्य है। यह एक साथ बहुत खुश भी रहते है और अगले ही पल थोडे समय में अलग भी हो जाते है। यह दोनों बहुत अधिक सक्रिय राशियां है। दोनों में यौन-इच्छाएं कूट-कूट कर भरी होती परंतु इनके स्वभाव आपस में टकराते है। अगर यह अपने-अपने अहम को ताक में रखकर समझौता कर ले तो एक लंबे समय तक सुखी जीवन व्यतीत कर सकते है। संगतता कुंडली के अनुसार इनकी सेक्स प्रगाढता इनकी समझ और उससे बने रिश्ते पर निर्भर करती है।

वृश्चिक-वृषभ :इन दोनों में ही यौन- संबंधों को लेकर एक सी ही चाहत होती है, एक दूसरे को सेक्स संबंधों में संतुष्ट कर सकते है परंतु वृषभ राशि के लोग जिद्दी होते है तथा वृश्चिक राशि वाले अत्याधिक गुस्से वाले होते है। अत: संगतता कुंडली के अनुसार इनमें यौन अनुकुलता कुछ समय के लिए अच्छी पंरतु सीमित होगी। तथ इनका वैवाहिक जीवन तभी संभव है जब दोनों भागीदार एक दूसरे के प्रति चरम धैर्य दिखा पाने में सफल हो पाएंगे।

वृश्चिक-मिथुन : आप दोनों यौन संगत है लेकिन इस बात को ध्यान में रखिए की शारारिक आर्कषण ही सबसे महत्वपूर्ण नहीं होता है। वृश्चिक स्वभाव से ईष्यावान व मिथुन विश्वासघाती होते है। कभी-कभी वृश्चिक बहुत अधिक अक्रामक हो जाते है जिसे मिथुन राशि वाले बर्दाशत नहीं कर पाते है। सेक्स में एक शानदार शुरूआत होगी परंतु जल्दी ही आर्कषण कम हो जाएगा। किसी दुर्लभ जोडे की ही शादी खुशहाल होगी।

वृश्चिक-कर्क : वृश्चिक शक्तिवान होते है जो अपने साथी की रक्षा कर सकते है। कर्क यौन संबंधों में संवेदनशील तथा वृश्चिक बहुत पशेनेट होते है। हालांकि कर्क राशि वाले यौन बिस्तर पर इन्हे खुश रखने का पूरा प्रयास करते है इसलिए इनके बीच आने वाले कई दिक्कते खत्म हो जाती है। इनके बीच प्यार स्थायी होगा। कुंडली संगतता के अनुसार दोनों के बीच अद्भुत प्यार, रोमांस तथा सेक्स अर्थात एक परफेक्ट शादी की संभावना है।

वृश्चिक-सिंह : यह एक शाक्तिशाली संयोजन है। जब यह दोनों सेक्सी राशियों एक एक साथ मिलती है तो परिणाम क्या होता है यह शब्दो में ब्यान नहीं किया जा सकता। सिंह अगि्न की और वृश्चिक जल की राशि होने के कारण आपस में खेलना पसंद करती है। इसलिए यौन आर्कषण व सेक्स संतुष्टि से यह बेहतर संयोजन है। परंतु वृश्कि राशि वालों का ईष्याई करने व खुद को बेहतर समझने का स्वभाव सिंह राशि वालों को नाराज कर देता है। अत: इनके बीच सुंदर रोमांस तो संभव है परंतु संगतता कुंडली इन्हें वैवाहिक जीवन गुजारने की सलाह नहीं देती है।
वृश्चिक-कन्या : आप एक दूसरे के संवाद, भावनाएं आदि को समझने की क्षमता रखते है। समय के साथ-साथ आपकी समझ और यौन संबंधों में मिठास बढेगी। कन्या व वृश्चिक दोनों ही एक दूसरे के लिए सेक्सी रक्षक साबित होते है। आप एक दूसरे की यौन इच्छाओं को सहज रूप से पूरा करेंगे। यौन और रोमांटिक संगतता एक ज्वालामुखी के समान होगी। एक मजबूत दोस्ती व वफादारी आप दोनों का साथ रखेगी यह सभी दृष्टि से एक अच्छा संयोजन साबित होगा।

वृश्चिक-तुला : वृश्चिक प्यारे दिले वाले तुला राशि की तुलना में बहुत ईष्यावान होते है। तुला राशि सेक्स में काफी लापरवाह होते है जो कि वृश्चिक राशि को उलझन में डाल देता है। इनके बीच एक गहरा यौन आर्कषण होता है पर यह किसी भी समय अलग हो सकते है। यौन संबंध संभव है परंतु यह वृश्चिक राशि के लिए कोई मायने नहीं रखते है। संगतता कुंडली एक गर्म और भयंकर रिश्ते और शादी की भविष्यवाणी करती है।

वृश्चिक-वृश्चिक : यौन जीवन के लिए यह एक दूसरे को उत्तेजित करने में सर्मथ है। परंतु एक राशि के कारण इन्हें खुश होने के लिए समान वातावरण की आवश्यकता होती है। दोनों ही दृढनिश्चर्य डोमेनेटिग, ईष्यावान व अजीब चरित्र के प्राणी है। इसलिए अगर यह किसी बात पर सहमत नहीं है तो इनका रिश्ता जल्दी ही टूट सकता है। शुरूआती दौर में पारास्पारिक सेक्स इच्छाएं इन्हे लंबे समय तक यौन कक्ष में बांध कर नहीं रख सकती है। छोटे रोमांस के लिए अच्दा संबंध है पर वैवाहिक जीवन कष्टदायी हो सकता है।

वृश्चिक-धनु :वृश्चिक अपने इस रिश्ते का पूरा नियंत्रण अपने हाथ में चाहते है जो कि संबंधों में बहुत अधिक पाने की मांग करता है जो कि धनु सुचारू रूप से देने में असफल हो जाते है। हालांकि अपने जबदस्त सेक्स आर्कषण के कारण यौन संबंध अच्छे बनने के आसार है परंतु यह रिश्ता एक रात या एक हफ्ते तक ही सीमित रह सकता है, संगतता कुंडली के अनुसार यह पूरे जीवन के लिए अच्छा रिश्ता नहीं बन सकता है।

वृश्चिक-मकर : दोनों महत्वकांशी और यौन संगत होते है। आपके बीच कोई गंभीर समस्य नहीं रहेगी। इनके बीच यौन संबंध अद्भूत होगा और एक रोमांचक रोमांस का अनुभव करेंगे। संगतता कुंडली वृश्चिक और मकर के लिए एक सुरक्षित और सफल शादी की उम्मीद करती है।

वृश्चिक-कुंभ : वृश्चिक, कुंभ राशि वालों के अस्थिर मूड से चिढ जाते है। कुंभ राशि वाले वृश्चिक की तुलना में बहुत सामाजिक व मिलनसार होते है। इसलिए इनका घर से ज्यादा बाहर ध्यान देना वृश्चिक राशि वालों को पसंद नहीं आता है। सेक्स संबंध अच्छे है, एक दूसरे को संतुष्ट भी करते है परंतु यौन बिस्तर पर किया गया रोमांस भी इन्हे लंबे समय तक बांध कर नहीं रख सकता है।

 वृश्चिक-मीन : इनके बीच एक मजबूत पारस्परिक आर्कषण होता है। मीन नए तरीके अपना कर यौन संबंधों को आर्कषक बनाते है। इनके बीच यौन जीवन अद्वत होना चाहिए। संगतता कुंडली इन्हे एक सफल रोमांस और शादी का वादा करती है।
मेष

#आसान Totka अपनाएं अपार धन-दौलत पाएं...


sex life according to astrology, Sex and zodiac signs, Indian Astrology, Your Birthday Says About Your Sex Life

Mixed Bag

error:cannot create object