1 of 6 parts

जानिये:धनतेरस के महत्व को...

By: Team Aapkisaheli | Posted: 27 Oct, 2016

जानिये:धनतेरस के महत्व को...
जानिये:धनतेरस के महत्व को...
जिस प्रकार देवी लक्ष्मी सागर मंथन से उत्पन्न हुई थी उसी प्रकार भगवान धनवन्तरि भी अमृत कलश के साथ सागर मंथन से उत्पन्न हुए हैं। देवी लक्ष्मी हालांकि की धन देवी हैं परन्तु उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए आपको स्वस्थ्य और लम्बी आयु भी चाहिए यही कारण है दीपावली दो दिन पहले से ही यानी धनतेरस से ही दीपामालाएं सजने लगती है।
कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन ही धन्वन्तरि का जन्म हुआ था इसलिए इस तिभि को धनतेरस के नाम से जाना जाता है। धन्वन्तरि जब प्रकट हुए थे तो उनके हाथों में अमृत से भरा कलश था। भगवान धन्वन्तरि चूंकि कलश लेकर प्रकट हुए थे इसलिए ही इस शुभ अवसर पर बर्तन खरीदने की परम्परा है। कहीं-कहीं लोकमान्यता के मुताबिक यह भी कहा जाता है कि इस दिन धन वस्तु खरीदने से उमसें 13 गुणा वृद्धि होती है। इस अवसर पर धनिया के बीज खरीद कर भी लोग घर में रखते हैं। दीपावली के बाद इन बाजीं को लोग अपने बाग-बगीचों में या खेती में बोते हैं।


जानिये:धनतेरस के महत्व को... Next
Importance of Dhanterass, happy Dhanteras, significance of Dhanteras, why we celebrate Dhanteras, astha and bhakti, diwali special, laxmi puja, Dhanteras puja
Advertisement
Advertisement

Mixed Bag

Advertisement
Advertisement