1 of 5 parts

ना दाग-धब्बे, पिंपल्स का झंझट, ना सफेद बाल....

By: Team Aapkisaheli | Posted: 27 Oct, 2018

ना दाग-धब्बे, पिंपल्स का झंझट, ना सफेद बाल....
ना दाग-धब्बे, पिंपल्स का झंझट, ना सफेद बाल....
त्वचा और बालों से जुडी किसी न किसी समस्या से हमें दो-चार होना ही पडता है। जिसमें दाग-धब्बे, पिंपल्स, बालों का झडना, असमय बालों का सफेद होना आदि जैसी परेशानियों से लोग ज्यादा ही जूझ रहे हैं। इन सभी का सबसे बडा कारण हमारा खान-पान है जो समय की कमी के चलते पूरा नहीं हो पाता जिससे हमारे शरीर में पौष्टिक तत्वों की कमी हो जाती है। यदि आप इन महंगे कॉस्मेटिक उत्पाद की जगह घरेलू उपचार का उपयोग करें तो ये आपके लिए बहुत ही लाभकारी होगा और इसके साइड इफेक्ट भी नहीं होते साथ ही पैसे की बर्बादी से भी आप बच सकते हैं। त्वचा और बालों से जुडी तमाम समस्याओं का समाधान चाहते हैं तो यहां कुछ उपाय है।

#परिणीती का मस्त Style देखकर आप भी कहेंगे हाय!


ना दाग-धब्बे, पिंपल्स का झंझट, ना सफेद बाल.... Next
Use rice water for hair and Flawless skin, rice water good for beauty, rice water, beauty tips, fair skin

Mixed Bag

News

मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार 
करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है
 जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा,
मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा, "एक चीज जो मैंने अपने बारे में सीखी है, वह यह कि मुझे अलग, भीड़ से दूर रहना पसंद है। मैंने खुद से प्यार किया है। मैंने बहुत से लोगों को शिकायत करते देखा कि वे घर पर बोर हो चुके हैं या वे बाहर नहीं जा सकते। मैं भी एक एक्सट्रोवर्ट हूं, मैं एक बहुत ही सामाजिक व्यक्ति हूं, लेकिन इस क्वारंटाइन ने मुझे यह एहसास दिलाया है कि मैं लोगों से मिलने की बजाय अलगाव पसंद करती हूं, क्योंकि मैं वास्तव में लोगों के संपर्क में नहीं हूं।"उन्होंने आगे कहा, "मैं किताबे पढ़ने पर जोर दे रही हूं, ज्यादा टेलीविजन नहीं देखा, लेकिन अब शो देखना शुरू कर दिया है। मैंने अपनी मां के साथ बहुत समय बिताया है, और ईमानदारी से कहूं तो ऐसे दिन भी थे जब मैंने कुछ नहीं किया।"भूमी का कहना है कि आत्म-प्रेम खुशी की चाबी है और उसने इस लॉकडाउन में खुद को प्राथमिकता दी है।उन्होंने आगे कहा, "मैंने जीवन में जो कुछ भी महत्वपूर्ण है, उसे प्राथमिकता दी है। मैंने खुद को फिर से शिक्षित किया है। लेकिन सबसे बड़ी सीख यह रही है कि मुझे अकेले रहना बहुत पसंद है।" (आईएएनएस)

Ifairer