1 of 1 parts

JEE Main 2020: आने वाले अप्रैल सत्र और बोर्ड परीक्षा 2020 के बीच अपनी तैयारी को कैसे संतुलित करें?

By: Team Aapkisaheli | Posted: 13 Mar, 2020

JEE Main 2020: आने वाले अप्रैल सत्र और बोर्ड परीक्षा 2020 के बीच अपनी तैयारी को कैसे संतुलित करें?
दिल्ली समेत देशभर के कई राज्यों में बोर्ड परीक्षाएं जारी हैं। छात्र बोर्ड एग्जाम में अपना बेस्ट देकर बेहतर अंक पाने की कोशिश में लगे हुए हैं। मगर बोर्ड एग्जाम के कुछ ही दिन बाद होने वाली जेईई परीक्षा ने छात्रों को चिंता बढ़ा दी। ऐसे में कुछ छात्रों के मन में सवाल है कि बोर्ड परीक्षाओं के बीच जेईई परीक्षा की तैयारी कैसे करें। ऐसा क्या किया जाए कि बोर्ड एग्जाम की तैयारी भी प्रभावित ना हो और JEE Mains की तैयारी भी हो जाए।

दरअसल अप्रैल के महीने में जेईई मेन्स 2020 की परीक्षा होनी है। एनटीए (NTA) की ओर से यह परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसके लिए कुछ छात्रों ने तैयारी शुरू भी कर दी है। वहीं कुछ अभी भी प्लानिंग ही कर रहे हैं। वो इसलिए क्योंकि छात्रों के मन में बोर्ड परीक्षाएं प्रभावित होने का डर। मगर आपके बोर्ड एग्जाम में अच्छे नंबर भी आए और आपकी जेईई की परीक्षा की तैयारी भी पूरी हो जाए। ऐसी गजब की प्लानिंग हम आपको बता सकते हैं। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि बोर्ड परीक्षा के दौरान जेईई मेन्स की प्लानिंग कैसे करें।

अप्रैल सत्र के लिए JEE Main Admit Card 20 मार्च, 2020 से डाउनलोड किया जा सकता है।

बोर्ड परीक्षा की तैयारी करते समय कॉन्सेप्ट पर ध्यान दें
वास्तव में एक साथ दो तरह की परीक्षाओं की तैयारी करना कठिन कार्य जरूर है। मगर इतना मुश्किल भी नहीं। वो इसलिए क्योंकि जेईई मेन्स 2020 में पूछे जाने सवाल यानी उसका सिलेब्स करीब-करीब 12वीं के जैसा ही होता है। इसका मतलब अगर आपने 12वीं का सिलेबस ठीक ठंग से पढ़ा है और उसकी तैयारी बेहतर रही है तो जेईई मेन्स की तैयारी में कोई बड़ी बाधा या रूकावट महसूस नहीं होगी। लिहाजा इसी कॉन्सेप्ट को ध्यान में रखते हुए ही आप बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ जेईई मेन्स 2020 की भी तैयारी कर सकते हैं।

बोर्ड परीक्षा से मिल रहा अभ्यास का मौका
एक तरह से देखा जाए तो बोर्ड परीक्षा की तैयारी, जेईई मेन्स 2020 के लिए अभ्यास जैसी है। अगर छात्र को यह पता है कि उन्हें इसके बाद जेईई की परीक्षा भी देनी है तो यह उनके लिए रिवीजन जैसा होगा। इसलिए छात्र को किसी भी टॉपिक को पढ़ते और उसकी तैयारी करते समय उसमें संदेह की गुजाइंश को नहीं छोड़ना चाहिए। सभी टॉपिक को स्पष्ट रूप से पढ़े औऱ समझे। इससे आप बोर्ड परीक्षा में पूछे जाने वाले सवालों का उत्तर तो आसानी से दे पाएंगे। साथ ही जेईई परीक्षा में आने वाले सवाल भी आसानी से हल हो सकेंगे।

बोर्ड एग्जाम में मिलने वाले गैप में करें तैयारी
बोर्ड की परिक्षाएं एक से डेढ़ महीने के भीतर पूरी हो जाती हैं। मतलब इतने बड़े अंतर में छात्र को एक से दूसरी परीक्षा के लिए काफी लंबा समय मिलता है और इसी वक्त में आपको पिछले साल के पेपर हल करने चाहिए। इससे आपकी तैयारी और बेहतर होगी। इस दौरान आप बोर्ड परीक्षा के साथ जेईई मेन्स का अभ्यास भी कर पाएंगे। इतना ही नहीं, इस तरीके के जरिए आप टाइम को मैनेज करना भी सीख सकते हैं।

बोर्ड परीक्षा में अपने प्रदर्शन को करें एनलाइज
अगर आप बोर्ड परीक्षा दे रहे हैं और जेईई मेन्स 2020 की भी तैयारी कर रहें है तो यह जरूर है कि आप अपने प्रदर्शन का विश्लेषण (एनलाइज) करें। इस विश्लेषण के जरिए आपको अपनी ताकत और कमजोरी की पहचान करनी होगी। इससे आप अपनी तैयारी को और बेहतर बना सकते हैं।

गौरतलब है कि जेईई मेन्स 2020 की अप्रैल में होने वाली परीक्षा के लिए आवेदन की अंतिम तारीख 7 मार्च 2020 है। एनटीए की ओर से जारी नोटिफिकेशन से पता चलता है कि जेईई मेन्स 2020 एप्लिकेशन में किसी तरह के सुधार के लिए करेक्शन विंडों 8 मार्च 2020 को खुलेगी। मतलब करेक्शन विंडो ओपन होने के बाद उम्मीदवार अपने एप्लिकेशन फॉ़र्म में किसी प्रकार की हुई गलतियों में सुधार कर सकेंगे।

#क्या देखा अपने: दीपिका पादुकोण का ग्लैमर अवतार


jee main 2020, JEE Main Admit Card, board exam 2020

Mixed Bag

error:cannot create object