1 of 1 parts

रिश्ते : खतरे के 6 संकेत

By: Team Aapkisaheli | Posted: 23 Jun, 2018

रिश्ते : खतरे के 6 संकेत
रिश्तों को जुडे़ चाहे कितना भी समय हो चुका हो, उनमें रोमांस हमेशा बने रहना चाहिए। यदि आपको लग रहा कि कुछ बदलाव आ रहा है और स्थितियां पहले कि तरह नहीं है, तो सचेत होने की जरूरत है। रिश्तों को बनाने में सालों लगते है और टूटने में एक पल भी नहीं लगता। कई बार हम अपनी दिनचर्या में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपने आस-पास हो रहे परिवर्तनों पर ध्यान नहीं दे पाते। रिश्ते कटु हों और समाप्ति की ओर बढें इसके पहले ही हमें कुछ संकेत मिलने लगते हैं। यह अलग बात है कि हम लापरवाही के चलते इन पर ध्यान नहीं दे पाते। यदि आप अपने रिश्तों को टूटने से बचाना चाहते हैं तो उन संकेतों को समझने की कोशिश करें, जिनसे दूरियां बढ़ने का पता चलता है।
1. साथी के अंदाज जाने : अचानक कुछ नहीं होता, चीजें धीरे-धीरे बदलती हैं। अपने साथी के शारिरिक संकेतों को समझने की कोशिश करिए। क्या आपका साथी पहले की तरह आप पर ध्यान नहीं दे रहा और आपकी बातों में रूचि नहीं ले रहे हैं? आपके करीब आने पर आपका साथी असहज महसूस करता/करती है। अतिनिकटता के क्षणों को अनदेखा कर रही/रहा है। बच्चों के मसले के अलावा और कोई विषय बातचीत का नहीं रह गया है। आप व्यक्त करना चाहें या नहीं लेकिन आपके शारिरिक संकेत बहुत कुछ कह देतें हैं।
2. प्यार कहीं खो गया: पति-पत्नी के बीच प्रेम और लगाव की कमी भी रिश्तों में दूरियों के बढ़ने के संकेत है। अगर पहले जैसे प्यार की गरमाहट अब कहीं ढूंढने से भी नजर नहीं आ रही तो समझिए कि यह खतरे का संकेत है। यह ठीक है विवाह के शुरूआती दिनों के बाद रोमांस का खुमार धीरे-धीरे कम होता चला जाता है। लेकिन ऎसा भी नहीं होता कि प्रेम बिलकुल नजर ही न आएं।
3. व्यवहार बदल रहा है : व्यवहार में बदलाव आपके बीच दूरियां बढ़ने का तीसरा संकेत है। क्या आपके साथी का अब आपकी बातों पर ध्यान नहीं जाता। गंभीर बातों को सुनकर भी अनसुना कर देते हैं। आपकी बातों का जवाब झुंझुलाकर देतें हैं। बेवजह गुस्सा करना इत्यादि। यदि ये सारे लक्षण उनके व्यवहार में नजर आ रहे हैं तो आप समझ लें कि ये खतरे की घंटी है।
4. नहीं चाहिए साथ : यदि आपका साथी आपके साथ अंतरंग पल नहीं बिताना चाहता/चाहती तो समझे कि दूरियां बढ़ रही हैं। बेहद कठिनाई से बाहर जाने के बने कार्यक्रम में देखते/देखती हैं कि वहां केवल आप दोनों ही नहीं, कुछ और भी परिचित हैं जिनके बारे में आपको पता भी नहीं था। आपके साथी का उपेक्षापूर्ण व्यवहार दूसरों को यह जता रहा है कि आपके संबंधो में क़डवाहट आ रही है। यह स्थिति कष्टपूर्ण है। ऎसी स्थिति आपके रिश्ते के लिए खतरे की घंटी है।
5. व्यक्तित्व में बदलाव : यदि आपको ऎसा महसूस हो रहा है कि आपका साथी दिन-प्रतिदिन कुछ बदल रहा है। यदि आपका साथी अपने व्यक्तित्व को लेकर पहले से ज्यादा सजग हो रहा/रही है। यदि नित नए और फैशनेबल परिधानों की ओर उनका ध्यान जा रहा है। अचानक आए इन बदलावों से जान ले कि आपके साथी के जीवन में कुछ नया और रोमांचक चल रहा है। हो सकता है कि आपकी जगह कोई और लेने की कोशिश कर रहा/रही है।
6. संपर्क कठीन हो रहा है : क्या आपने ध्यान दिया कि आपने दिन में कितनी बार उन्हें कॉल किया और उन्होने कितनी बार आपसे बात की। वापस फोन करता/करती हूं कह कर बात बात काट दी, लेकिन पूरा दिन निकलने के बाद भी इंतजार ही बाकी रह गया। उन्होनें कितने अवसर टाले यह कहकर कि उनके पास समय नहीं हैं।यदि ये लक्षण आपको नजर आ रहे हैं तो सचेत हो जाइए। कभी भी स्थितियों को अनदेखा करने से स्थितियां सुधरती नहीं हैं और बिगड जाती हैं। बेहतर होगा कि खतरे के संकेतों को पहचान कर अपने साथी से इस बारे में समय रहते बात कर लें ताकि आपका रिश्ता महफूज रह सके।

#क्या आप जानते हैं गर्म दूध पीने के ये 7 फायदे


6 indications for relationship, relationship, husband and wife,

Mixed Bag

error:cannot create object