माफी का सवाल ही नहीं उठता, सरकार ध्यान भटका रही : राहुल

By: Team Aapkisaheli | Posted: 13 Dec, 2019

माफी का सवाल ही नहीं उठता, सरकार ध्यान भटका रही : राहुल
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने झारखंड में एक चुनावी रैली के दौरान की गई अपनी रेप इन इंडिया टिप्पणी पर माफी मांगने से शुक्रवार को इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि यह उनका (भाजपा सरकार) मुख्य मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए महज एक बहाना है।

राहुल ने संसद में मीडिया से कहा, मैंने इतना ही कहा कि प्रधानमंत्री हमेशा मेक इन इंडिया की बात करते हैं, लेकिन जब भी हम समाचार पत्र खोलते हैं, पूरे भारत में हमें सिर्फ रेप के बारे में पढ़ने को मिलता है। भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) शासित हर राज्य में रेप की खबरें हैं।

रेप इन इंडिया वाली टिप्पणी पर माफी मांगने की मांग पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता ने कहा, माफी मांगने का सवाल ही पैदा नहीं होता, वर्तमान में चल रहे मुख्य मुद्दों से (नागरिक संशोधन विधेयक) ध्यान भटकाने का सरकार का यह प्रयत्न है।

उन्होंने एक ट्वीट में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। राहुल ने विवादास्पद नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 के पारित होने के बाद पूर्वोत्तर राज्यों में पैदा हुए हालात के लिए और भारत की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने के लिए उनसे माफी की मांग की।

केरल के वायनाड से सांसद राहुल ने ट्वीट किया, पूर्वोत्तर राज्यों को जलाने और भारत की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने के लिए मोदी जी को चाहिए कि वह माफी मांगें।

इससे पहले राहुल गांधी की रेप इन इंडिया टिप्पणी पर शुक्रवार को लोकसभा में भारी हंगामा हुअा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों ने इस टिप्पणी की निंदा की और राहुल गांधी से माफी की मांग की।

यह मुद्दा संसदीय मामलों के राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने उठाया। इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने 13 दिसंबर, 2001 को हुए संसद हमले में अपने प्राणों की आहूति देने वाले सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

मेघवाल ने कहा कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया के नारे को रेप इन इंडिया (भारत में दुष्कर्म) बना दिया।

उन्होंने कहा, क्या वह लोगों को भारत में दुष्कर्म करने के लिए बुला रहे हैं? इसका क्या मतलब है? यह शर्मनाक है। उन्हें देश के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

इसके बाद भाजपा सदस्य और पश्चिम बंगाल के सांसद लॉकेट चटर्जी ने राहुल गांधी के बयान की निंदा करते हुए कहा, क्या राहुल गांधी चाहते हैं कि लोग भारत में महिलाओं के साथ दुष्कर्म करें? क्या उनकी यही सोच है?

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि इतिहास में यह पहली बार हो रहा है, जब एक सांसद लोगों को भारतीय महिलाओं के साथ दुष्कर्म करने का निमंत्रण दे रहे हैं।

उन्होंने कहा, गांधी परिवार के बेटे लोगों को महिलाओं के साथ दुष्कर्म करने के लिए कह रहे हैं।

गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी के शासन में महिलाओं के खिलाफ अपराधों को उजागर करने के लिए गुरुवार को झारखंड के गोड्डा जिले में एक सार्वजनिक रैली के दौरान विवादास्पद रेप इन इंडिया वाली टिप्पणी की थी।

उन्होंने कहा था, मोदी जी का प्रिय प्रोजेक्ट मेक इन इंडिया अब वर्तमान समय में रेप इन इंडिया हो गया है।

भाजपा की सभी महिला सांसद राहुल गांधी माफी मांगो और हमें न्याय चाहिए की नारेबाजी करते हुए एक तरफ जमा हो गईं। आरोपों को खारिज करते हुए विपक्षी नेता भी अपनी सीट से खड़े हो गए।

इस पूरे हंगामे के दौरान राहुल को भी सदन के अंदर देखा गया। जारी हंगामे के बीच टेलीविजन विजुअल्स में वह मुस्कुराते हुए दिखे।  (आईएएनएस)

सावधान! रसोई में रखी ये 5 चीजें, बन सकती है जहर!

परिणीती का मस्त Style देखकर आप भी कहेंगे हाय!

जानें 10 टिप्स: पुरूषों में क्या पसंद करती हैं लडकियां


Mixed Bag

error:cannot create object