1 of 5 parts

दिल तो हरदम मचलता है जी

By: Team Aapkisaheli | Posted: 30 May, 2014

दिल तो हरदम मचलता है जी
दिल तो हरदम मचलता है जी
कहते हैं इंसान के विचार समुद्र की लहरों की तरह होते हैं। वे हरदम मचलने को तैयार रहते हैं। वहीं उस की भवनाओं की कोई थाह नहीं होती और भावनाएं ही उसे अपनों से जोडे रखती हैं। लेकिन यह जरूरी नहीं कि भावनात्मक रिश्ता सिर्फ अपनों से ही हो। वह किसी से भी हो सकता है।
दिल तो हरदम मचलता है जी Next
extra affair relationship articles, love couple articles, Emotional Relationship articles, couple relation news, marriage couple articles,

Mixed Bag

error:cannot create object