1 of 4 parts

ऎसे चमक उठेगी आपकी बत्तीसी

By: Team Aapkisaheli | Posted: 29 Mar, 2014

ऎसे चमक उठेगी आपकी बत्तीसी
ऎसे चमक उठेगी आपकी बत्तीसी
अक्सर लोग दांतों की देखभाल की गंभीरता से नहीं लेते लेकिन दांतों को स्वस्थ रखना महत्वपूर्ण है अन्यथा दांतों में कई प्रकार के रोग हो सकते हैं। हाल ही में हुए एक शोध के अनुसार यदि दांतों व मसूडों में अधिक समय तक रोग बने रहें तो कैंसर की आशंका कई गुना तक बढ जाता है। कोलंबिया विश्वविद्यालय ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जिन व्यक्तियों को मसूडों के रोग होते हैं उनकी शिराओं के सिकुडने की संभावना अधिक रहती है, जिसके कारण उन्हें हार्टअटैक हो सकता है।
ऎसे चमक उठेगी आपकी बत्तीसी Next
Such wakes your teeth shine

Mixed Bag

News

मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार 
करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है
 जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा,
मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा, "एक चीज जो मैंने अपने बारे में सीखी है, वह यह कि मुझे अलग, भीड़ से दूर रहना पसंद है। मैंने खुद से प्यार किया है। मैंने बहुत से लोगों को शिकायत करते देखा कि वे घर पर बोर हो चुके हैं या वे बाहर नहीं जा सकते। मैं भी एक एक्सट्रोवर्ट हूं, मैं एक बहुत ही सामाजिक व्यक्ति हूं, लेकिन इस क्वारंटाइन ने मुझे यह एहसास दिलाया है कि मैं लोगों से मिलने की बजाय अलगाव पसंद करती हूं, क्योंकि मैं वास्तव में लोगों के संपर्क में नहीं हूं।"उन्होंने आगे कहा, "मैं किताबे पढ़ने पर जोर दे रही हूं, ज्यादा टेलीविजन नहीं देखा, लेकिन अब शो देखना शुरू कर दिया है। मैंने अपनी मां के साथ बहुत समय बिताया है, और ईमानदारी से कहूं तो ऐसे दिन भी थे जब मैंने कुछ नहीं किया।"भूमी का कहना है कि आत्म-प्रेम खुशी की चाबी है और उसने इस लॉकडाउन में खुद को प्राथमिकता दी है।उन्होंने आगे कहा, "मैंने जीवन में जो कुछ भी महत्वपूर्ण है, उसे प्राथमिकता दी है। मैंने खुद को फिर से शिक्षित किया है। लेकिन सबसे बड़ी सीख यह रही है कि मुझे अकेले रहना बहुत पसंद है।" (आईएएनएस)

Ifairer