1 of 2 parts

जयपुर मेट्रो रेल में नौकरी पाने का अच्छा मौका जाने ना दें, तुरंत करें आवेदन

By: Team Aapkisaheli | Posted: 26 Feb, 2017

जयपुर मेट्रो रेल में नौकरी पाने का अच्छा मौका जाने ना दें, तुरंत करें आवेदन
जयपुर मेट्रो रेल में नौकरी पाने का अच्छा मौका जाने ना दें, तुरंत करें आवेदन
अगर आप जयपुर मेट्रो में नौकरी पाने के इच्छुक हैं तो आपके लिए बेस्ट ऑप्शन है। अगर आप इस पद के लिए इच्छुक और योग्य हैं तो तुरंत आवेदन करें। लेकिन आवेदन करने से पहले पूरी जानकारी जरूर प्राप्त कर लें।


वैकेंसी डीटेल
पदों की संख्या - 45 पद
पदों का नाम -
1. स्टेशन कंट्रोलर / ट्रेन ऑपरेटर
2. जूनियर इंजीनियर - सिविल
3. जूनियर इंजीनियर - इलेक्ट्रॉनिक्स
4. जूनियर इंजीनियर - मैकेनिकल
5. जूनियर इंजीनियर - इलेक्ट्रिकल
6. जूनियर एकाउंटेंट
7. कस्टमर रिलेशन्स असिस्टेंट
8. मेंटेनर - फिटर
9. मेंटेनर - इलेक्ट्रॉनिक्स

-> आलिया भट्ट की कातिल अंदाज देखकर दंग रहे जाऐंगे आप


जयपुर मेट्रो रेल में नौकरी पाने का अच्छा मौका जाने ना दें, तुरंत करें आवेदन Next
jaipur metro rail corporation, jmrc recruitment, government job, private job, career, salary, students, exams, results, career news in hindi

Mixed Bag

News

मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार 
करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है
 जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा,
मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा, "एक चीज जो मैंने अपने बारे में सीखी है, वह यह कि मुझे अलग, भीड़ से दूर रहना पसंद है। मैंने खुद से प्यार किया है। मैंने बहुत से लोगों को शिकायत करते देखा कि वे घर पर बोर हो चुके हैं या वे बाहर नहीं जा सकते। मैं भी एक एक्सट्रोवर्ट हूं, मैं एक बहुत ही सामाजिक व्यक्ति हूं, लेकिन इस क्वारंटाइन ने मुझे यह एहसास दिलाया है कि मैं लोगों से मिलने की बजाय अलगाव पसंद करती हूं, क्योंकि मैं वास्तव में लोगों के संपर्क में नहीं हूं।"उन्होंने आगे कहा, "मैं किताबे पढ़ने पर जोर दे रही हूं, ज्यादा टेलीविजन नहीं देखा, लेकिन अब शो देखना शुरू कर दिया है। मैंने अपनी मां के साथ बहुत समय बिताया है, और ईमानदारी से कहूं तो ऐसे दिन भी थे जब मैंने कुछ नहीं किया।"भूमी का कहना है कि आत्म-प्रेम खुशी की चाबी है और उसने इस लॉकडाउन में खुद को प्राथमिकता दी है।उन्होंने आगे कहा, "मैंने जीवन में जो कुछ भी महत्वपूर्ण है, उसे प्राथमिकता दी है। मैंने खुद को फिर से शिक्षित किया है। लेकिन सबसे बड़ी सीख यह रही है कि मुझे अकेले रहना बहुत पसंद है।" (आईएएनएस)

Ifairer