1 of 5 parts

अंतरंग लम्हों को जीना हुआ अब...

By: Team Aapkisaheli | Posted: 24 July, 2014

अंतरंग लम्लों को जीना हुआ अब...
अंतरंग लम्हों को जीना हुआ अब...
आज कहां नहीं है तनाव! घर-परिवार, करियर, नौकरी हर जगह तनाव का मक़डजाल फैला हुआ है। धीरे-धीरे इसने अंतरंग लम्हों मे भी घुसपैठ कर दी है। क्या एक हेल्दी रिलेशन के लिए सेक्स स्ट्रेस को दूर करने की जरूरत नहीं है। मनोचिकित्सक के अनुसार, स्ट्रेस लेवल बढ़ने के कारण शरीर के कई ऎसे हार्मोस प्रभावित होते हैं, जिनकी वजह से सेक्स स्ट्रेस का कारण खुद ही समझ में आ जाएगा। सेक्स स्ट्रेस का कोई एक कारण नहीं है। मॉर्डन लाइफस्टाइल व अनेक चाही-अनचाही परिस्थितियां इसके लिए जिम्मेदार हैं। "" आइए उन विभिन्न स्थितियों को समझें।
अंतरंग लम्लों को जीना हुआ अब... Next
Intimate moments couple life articles, Successful married life articles, Romantic Life articles, formulas happy marital sex is a very important articles, Women can reach the peak via Forple news, coup

Mixed Bag

News

मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार 
करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है
 जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा,
मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि वह खुद से प्यार करती हैं और महामारी के दौरान उन्होंने उन चीजों पर ध्यान केंद्रित किया है जो उन्हें खुश करती हैं। भूमि ने कहा, "एक चीज जो मैंने अपने बारे में सीखी है, वह यह कि मुझे अलग, भीड़ से दूर रहना पसंद है। मैंने खुद से प्यार किया है। मैंने बहुत से लोगों को शिकायत करते देखा कि वे घर पर बोर हो चुके हैं या वे बाहर नहीं जा सकते। मैं भी एक एक्सट्रोवर्ट हूं, मैं एक बहुत ही सामाजिक व्यक्ति हूं, लेकिन इस क्वारंटाइन ने मुझे यह एहसास दिलाया है कि मैं लोगों से मिलने की बजाय अलगाव पसंद करती हूं, क्योंकि मैं वास्तव में लोगों के संपर्क में नहीं हूं।"उन्होंने आगे कहा, "मैं किताबे पढ़ने पर जोर दे रही हूं, ज्यादा टेलीविजन नहीं देखा, लेकिन अब शो देखना शुरू कर दिया है। मैंने अपनी मां के साथ बहुत समय बिताया है, और ईमानदारी से कहूं तो ऐसे दिन भी थे जब मैंने कुछ नहीं किया।"भूमी का कहना है कि आत्म-प्रेम खुशी की चाबी है और उसने इस लॉकडाउन में खुद को प्राथमिकता दी है।उन्होंने आगे कहा, "मैंने जीवन में जो कुछ भी महत्वपूर्ण है, उसे प्राथमिकता दी है। मैंने खुद को फिर से शिक्षित किया है। लेकिन सबसे बड़ी सीख यह रही है कि मुझे अकेले रहना बहुत पसंद है।" (आईएएनएस)

Ifairer