योग में विश्व को एकजुट करने की ताकत : मोदी

By: Team Aapkisaheli | Posted: 21 Jun, 2018

योग में विश्व को एकजुट करने की ताकत : मोदी
देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर कहा कि योग में बड़े स्तर पर व्यक्ति, समाज, देश और विश्व को एकजुट करने की ताकत है।

उन्होंने कहा कि यह वैश्विक स्तर पर ‘एकजुट करने वाली ताकत’ बनकर उभरा है।

उत्तराखंड में चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह की अगुवाई करते हुए मोदी ने कहा कि विश्व ने योग को अपनाया है और इसकी महत्ता प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने के तरीकों से देखी जा सकती है।

उन्होंने कहा,‘‘वास्तव में योग दिवस स्वस्थ और बेहतर जीवन के लिए सबसे बड़े सामूहिक अभियानों में से एक बन गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि योग खूबसूरत है क्योंकि यह ‘प्राचीन लेकिन आधुनिक’ है।

उन्होंने कहा, ‘‘इसमें लगातार विकास हो रहा है। इसमें हमारे अतीत, मौजदूा और भविष्य की उम्मीद है। हम आज जिन समस्याओं का सामना कर रहे हैं, उसका बेहतर समाधान योग है।’’

आज के बदलते समय में योग मनुष्य के शरीर, मस्तिष्क और आत्मा को एकसाथ जोड़ देता है और शांति प्रदान करता है।

मोदी ने कहा, ‘‘शांत और रचनात्मक जीवन की कुंजी ही योग है। यह तनाव और मानसिक बैचेनी को हरा देता है। योग बांटने के बजाए लोगों को जोड़ता है।’’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि योग मानवता के लिए सबसे बेशकीमती उपहारों में से एक है।

उन्होंने कहा, ‘‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरे विश्व में मनाया जाता है। देहरादून से डबलिन, जकार्ता से जोहान्सबर्ग और शंघाई से शिकागो तक, लोग पूरे दुनिया में योग दिवस मनाते हैं।’’

इस समारोह में विदेशों के 35 से ज्यादा स्वंयसेवकों ने भाग लिया और देहरादून के फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट (एफआरआई) में लगभग 50,000 लोगों ने योग ‘आसन’ किया।

मोदी ने कहा कि यह पूरे विश्व में उन सभी भारतीयों के लिए एक गौरवान्वित लम्हा है जिन्होंने इस दिन योग के साथ उगते हुए सूर्य का अभिवादन किया।

मोदी ने संयुक्त राष्ट्र के समक्ष 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने का प्रस्ताव रखने के क्षण को याद किया और कहा कि यह पहला प्रस्ताव था जिसे अधिकतर देशों ने सह-प्रस्तावित किया था। साथ ही यह विश्व के इतिहास में पहला प्रस्ताव था जिसे इतने कम समय में स्वीकार किया गया।

मोदी ने कहा, ‘‘अब सभी देशों के नागरिक खुद को योग से जोड़ते हैं। योग ने वैश्विक मित्रता को नई ऊर्जा प्रदान की है।’’

मुख्य समारोह को आयोजित करने के लिए देहरादून का चयन करने पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मोदी को धन्यवाद दिया और कहा कि इस कदम से राज्य के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।
(आईएएनएस)

पहने हों कछुआ अंगूठी तो नहीं होगी पैसों की तंगी...

Top 7 बिना मेकअप के देखा है टीवी अभिनेत्रियों को !

आलिया भट्ट की कातिल अंदाज देखकर दंग रहे जाऐंगे आप


Mixed Bag

error:cannot create object