आईपीएल-12 : हैदराबाद ने पंजाब को हरा कायम रखीं अंतिम-4 की उम्मीदे

By: Team Aapkisaheli | Posted: 30 Apr, 2019

आईपीएल-12 : हैदराबाद ने पंजाब को हरा कायम रखीं अंतिम-4 की उम्मीदे
हैदराबाद। किंग्स इलेवन पंजाब को सोमवार को इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन के मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों 45 रनों से हार का सामना करना पड़ा है।

राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए इस मैच में हैदराबाद ने डेविड वार्नर (81) की बेहतरीन पारी के दम पर पंजाब को 213 रनों का विशाल लक्ष्य दिया, लेकिन पंजाब निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट खोकर सिर्फ 167 रन ही बना सकी।

इस जीत के साथ ही हैदराबाद के 12 मैचों में छह जीत, छह हार के साथ 12 अंक हो गए हैं और वह अभी भी प्लेऑफ की रेस में बनी हुई है। हैदराबाद की टीम चौथे स्थान पर है।

पंजाब के लिए लोकेश राहुल ने 56 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्कों की मदद से 79 रन बनाए, लेकिन वह दूसरे छोर से समर्थन के लिए जूझते रहे। हैदराबाद के लिए खलील अहमद और राशिद खान ने तीन-तीन विकेट लिए। संदीप शर्मा को दो सफलताएं मिलीं।

मजबूत लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब को 11 के कुल स्कोर बड़ा झटका लगा। खलील अहमद ने क्रिस गेल (4) को पवेलियन भेज दिया। गेल के जाने के बाद राहुल और मयंक अग्रवाल (27) ने दूसरे विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी की। मयंक 71 के कुल स्कोर पर राशिद की गेंद पर विजय शंकर द्वारा लपके गए।

निकोलस पूरन ने 10 गेंदों पर दो चौके और दो छक्कों की मदद से 21 रन बनाए लेकिन भुवनेश्वर कुमार ने एक बेहतरीन कैच लेकर उन्हें बाहर भेज दिया। यहां से पंजाब की उलटी गिनती शुरू हो गई। राशिद खान ने डेविड मिलर (11) और कप्तान रविचंद्रन अश्विन (0) को आउट कर मेहमान टीम को दबाव में ला दिया।

राहुल एक छोर पकड़े हुए थे और उनके साथ थे अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे प्रभसिमरन सिंह। यह दोनों हालांकि बढ़ती रनगित के मुताबिक रन नहीं कर पाए। राहुल अंतत: 19वें ओवर में खलील का दूसरा शिकार बने। आखिरी ओवर की पहली गेंद पर संदीप ने प्रभसिमरन को भी पवेलियन भेज दिया। उन्होंने 17 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 16 रन बनाए। संदीप ने आखिरी ओवर में मुजीब उर रहमान को खाता नहीं खोलने दिया।

मोहम्मद शमी और मुरुगन अश्विन एक-एक रन बनाकर नाबाद रहे।  

इससे पहले, बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर हैदराबाद बल्लेबाजों के संयुक्त प्रदर्शन के दम पर ही 20 ओवरों में छह विकेट खोकर 212 रन बना पाने में सफल रही। इसमें अहम योगदान सलामी बल्लेबाज वार्नर का रहा जिन्होंने 56 गेंदों पर सात चौके और दो छक्कों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली। वार्नर का यह इस सीजन का आखिरी मैच था। वह विश्व कप टीम के साथ जुडऩे के लिए आस्ट्रेलिया रवाना हो रहे हैं।

वार्नर ने रिद्धिमान साहा के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 6.2 ओवरों में 78 रन जोड़े। पंजाब के कप्तान अश्विन ने साहा को आउट किया। साहा ने 13 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की सहायता से 28 रन बनाए।

साहा के जाने के बाद वार्नर को मनीष पांडे का साथ मिला। इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 82 रनों की साझेदारी हुई। रविचंद्रन अश्विन ने ही पांडे को 160 के कुल स्कोर पर आउट किया। पांडे ने 25 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के की सहायता से 36 रन बनाए।

पांडे ने ड्रेसिंग में रूम में अच्छे से सांस भी नहीं ली होगी कि अश्विन ने तीन रन बाद वार्नर को पवेलियन भेज दिया। अंत में मोहम्मद नबी ने 10 गेंदों पर 20, कप्तान केन विलियम्सन ने सात गेंदों पर 14 रन बनाए। विजय शंकर सात और अभिषेक शर्मा पांच रन बनाकर नाबाद रहे।

अश्विन और शमी ने दो-दो विकेट लिए। लेग स्पिनर मुरुगन अश्विन और अर्शदीप को एक-एक सफलता मिली।

(आईएएनएस)

महिलाओं के ये 6 राज जान चौंक जाएंगे आप

गोरापन पल भर में...अब आपके हाथों में

जानिए अपनी Girlfriend के बारे में 8 अनजानी बातें


Mixed Bag

error:cannot create object