अच्छा खेलने के लिए प्रेरित करती है टीम में मौजूद स्वस्थ प्रतिस्पर्धा : ईशांत शर्मा

By: Team Aapkisaheli | Posted: 01 Feb, 2019

अच्छा खेलने के लिए प्रेरित करती है टीम में मौजूद स्वस्थ प्रतिस्पर्धा : ईशांत शर्मा
नई दिल्ली। आस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने माना है कि टीम में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है और इससे बेहतर प्रदर्शन करने की प्ररेणा मिलती है।
 
भारत ने हाल ही में आस्ट्रेलिया को उसके घर में चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से मात दी थी। यह भारत की आस्ट्रेलिया में 71 साल बाद पहली टेस्ट सीरीज जीत है।

इस जीत की अहम वजह भारत का गेंदबाजी आक्रमण था, जिसमें ईशांत के अलावा, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी थे। ईशांत ने माना की टीम में इस समय स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है लेकिन किसी तरह की असुरक्षा मन में नहीं है।

ईशांत ने आईपीएसएसपीबी क्रिकेट टूर्नामेंट के लॉन्च के इतर आईएएनएस से कहा, ‘‘स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है, किसी तरह की असुरक्षा नहीं है। मुझे पता है कि मैं अच्छा हूं, तो खेलूंगा। इसमें कोई शक नहीं है।’’
 
ईशांत भारत की टेस्ट टीम के नियमित सदस्य हैं लेकिन वनडे टीम का वह हिस्सा नहीं हैं। इसी साल इंग्लैंड में वनडे विश्व कप खेला जाना है। ईशांत से जब विश्व कप टीम में जगह पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि वह अपने काम कर ध्यान दे रहे हैं और चयन के बारे में नहीं सोच रहे हैं।

बकौल ईशांत, ‘‘यह सब समय के ऊपर निर्भर है। मेरे हाथ में जो है मैं वो करूंगा। अभी आईपीएल आने वाला है तो मैं कोशिश करूंगा कि आईपीएल में अच्छा खेलूं। मेरा काम अच्छा करना है इसके बाद टीम में आना होगा तो आऊंगा। मेरा ध्यान मेरे खेल पर है न कि चयन पर।’’
 
ईशांत ने अपना आखिरी वनडे आस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में 23 जनवरी, 2016 को खेला था।
 
ईशांत ने टेस्ट में 2007 में पदार्पण किया था तब से वह आस्ट्रेलिया में काफी टेस्ट खेल चुके हैं। ईशांत से जब पूछा गया कि क्या इस बार की विजेता टीम का गेंदबाजी आक्रमण पहले की अपेक्षा ज्यादा बेहतर था?

 इस पर ईशांत ने साफ लहजे में कहा, ‘‘मैं यह तो नहीं कह सकता कि वो जो गेंदबाजी आक्रमण था, वो बेहतर नहीं था। सभी ने अपने देश के लिए काफी विकेटें लीं हैं। जहीर खान देश के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज हैं, तो यह नहीं कह सकते कि पहले का गेंदबाजी आक्रमण बेहतर नहीं था। ऐसा कहना गलत होगा। इससे पहले सभी ने कोशिश की है कि हम सीरीज जीतें।’’
 
ईशांत का बीता साल 2018 काफी शानदार रहा। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में भी शानदार गेंदबाजी की तो वहीं इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया में भी दमदरा प्रदर्शन किया। ईशांत से जब इस बदलाव के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘आप बदलाव को कैसे देखते हैं यह बात मायने रखती है। आपके खाते में विकटों का कॉलम अच्छा होता है तो सभी पसंद करते हैं तभी सब आपको बदला हुआ देखते हैं। मैं वैसा ही इंसान हूं जैसा 10 साल पहले था। हां मेरी स्ट्राइक रेट थोड़ी बढ़ गई है तो सभी को लग रहा है कि मैं अच्छा हूं। मुझे खुशी है कि मैंने अच्छा प्रदर्शन किया।’’
 
ईशांत इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सीजन में अपने घर दिल्ली की फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स से खेलेंगे। इस पर ईशांत ने कहा,‘‘मैं पहली बार दिल्ली के लिए आईपीएल में खेलूंगा। इसलिए काफी उत्साहित हूं। कोशिश करूंगा की अच्छा कर सकूं।’’ (आईएएनएस)

तिल मस्सों से हमेशा की मुक्ति के लिए 7 घरेलू उपाय

जानिये, दही जमाने की आसान विधि

जानिए अपनी Girlfriend के बारे में 8 अनजानी बातें


Mixed Bag

error:cannot create object